Wednesday, May 20, 2009

सपने देखने का दिल करता है

कांग्रेस को जो जनादेश मिला है वो है तो बँटा हुआ परन्तु पिछली बार से बहुत बेहतर है अब वो सकून से अपनी शर्तो पर काम कर सकती है /उसकी खोई थाती उसे धीरेधीरे वापस मिल रही है यानि मुस्लिम वोट वापसी कर रहे है जो एस नजरिये से एक बेहतर बात है की जितना ज्यादा दूसरी पार्टियों ने उसका भय दोहन किया उतना तो कांग्रेस ने चार से ज्यादा दशक में नही किया यानि दूसरी पार्टियों ने ना केवल मुसलिम वर्ग से वोट ही लिया बल्कि उसे तमाम बुनियादी सुविधाओ से मरहूम भी रखा खास कर शिछा के मामले में क्योकि प्रजातंत्र में अशिक्षा एक शाप ही है खैर देर आए परन्तु दुरूस्त आए /उम्मीद है आने वाला समय हर वर्ग के लोगो के लिए सुखद होगा / राहुल गाँधी से हर किसी ने उम्मीदे बाँध ली है जो उनके हावभाव से ग़लत भी नही प्रतीत होती मेरा दिल कहता है यह नवजवान निश्चित ही कुछ कर गुजरेगा /प्रभु उस पर कृपा बनाए रखे क्योकि जिस उम्र में वो सत्ता के शिखर के बिल्कुल पास खडे है उस उम्र में किसी जिले का नगर पार्षद नही बना जा सकता अस्तु किसी नोजवान की शिखर पर मौजूदगी बड़े बड़े इरादे पालने की इच्छा जगाता है /जय भारत /